वर्तमान में देश में सर्वाधिक घृणा बटोर रहे आमिर खान (Amir Khan) के लिए यह कहना कुछ टेढ़ी खीर है, लेकिन कुण्‍डली विश्‍लेषण से यही पता चलता है कि वर्तमान में आमिर खान बहुत अधिक बढि़या स्थिति में है। भले ही स्‍वास्‍थ्‍य के दृष्टिकोण से वे कुछ समस्‍याओं का सामना कर रहे हों, लेकिन आय और प्रसिद्धि के मामले में वर्ष 2016 वे खासे लकी साबित होंगे। मई तक जहां घृणा और क्षोभ के जरिए वे अपना प्रसार करेंगे, वहीं मई के बाद स्थितियों में नाटकीय परिवर्तन आएगा और वे दशकों में अधिक बेहतरी से वापसी करेंगे।

जो जन्‍म संबंधी विवरण उपलब्‍ध है उसके अनुसार आमिर खान का जन्‍म 14 मार्च 1965 को सुबह सवा छह बजे मुंबई में हुआ था। इसके अनुसार कुंभ लग्‍न की कुण्‍डली बनती है। ग्रहों की स्थिति इस प्रकार है कि आमिर खान को बार बार फर्श से अर्श की यात्रा करनी पड़ती है। हर बार भुला दिए जाने की कगार पर पहुंचकर आमिर लौटते हैं। यही उनकी नीयति है। ऐसे में अगर वर्तमान दौर में आमिर के प्रति देश में फैल रही घृणा को देखा जाए तो इस घृणा का चरम उनके लौटने का सबब बनेगा। दूसरे शब्‍दों में कहा जाए तो आमिर खान भारतीय फिल्‍म उद्योग में फीनिक्‍स की तरह हैं और उनका आगे का समय भी कुछ ऐसा ही रहेगा।

वर्ष 2016 मुख्‍य रूप से दो भागों में बंटा नजर आएगा। प्रथम भाग मई 2016 तक चलेगा। इस अवधि में वे तेजी से छोटी छोटी यात्राएं करेंगे और अपने काम पर ध्‍यान लगाए रखेंगे। वर्तमान में यही दौर चल रहा है। मई के बाद वे अपने कार्यस्‍थल पर सीमित होकर रहेंगे और बहुत हद तक शांत रहकर एकांत में अपना काम करेंगे। जिस प्रोजेक्‍ट पर अभी काम कर रहे हैं, उसका परिणाम 4 नवम्‍बर के बाद आएगा। ऐसे में कहा जा सकता है कि साल के दौरान मई से पहले आने वाली फिल्‍मों से उन्‍हें कुछ खास हासिल नहीं होने वाला, लेकिन जुलाई के प्रथम सप्‍ताह और नवम्‍बर के प्रथम सप्‍ताह में जो प्रोजेक्‍ट फ्लोर पर होंगे, उन प्रोजेक्‍टस में आमिर को खासी सफलता मिलेगी। खास तौर पर नवम्‍बर में आने वाले किसी भी प्रोजेक्‍ट का आमिर को बहुत अच्‍छा लाभ मिलेगा। इस बीच मई माह में ही उन्‍हें शारीरिक व्‍याधि से दो चार होना पड़ेगा। अगर हृदय संबंधी कोई समस्‍या है तो उन्‍हें इस माह सावधानी से परहेज और ईलाज पर ध्‍यान लगाना चाहिए।

पेशे से अभिनेता आमिर का इस साल अधिकांश जोर प्रॉडक्‍शन यानी फिल्‍म अथवा फिल्‍म से संबंधित अन्‍य विषयों के निर्माण में लगा रहेगा। मई से पहले किसी भी प्रकार की सफलता प्राप्‍त करने के लिए उन्‍हें बच्‍चों के लिए किसी प्रोजेक्‍ट में खुद को खपाना चाहिए, जहां शारीरिक सक्रियता के साथ उनका जुड़ाव हो।