Astrologer Sidharth Jagannath Joshi is One of the best astrologer having good practice in India. He mastered in traditional Parashar paddathi, Lal Kitab, Krishnamurti Paddhati and Vastu Shastra. With his accurate horoscope prediction and effective remedies, he got attention from Indians who are spread all over the globe. His premier customer is from USA, Australia, England, Europe, Middle East, China as well as all over India.

He practices astrology since 1999. Short after his learning course began in 1997; It was not professional till 2003. First he started his office in Bikaner and got the attention of senior astrologers.

In 2007, Astrologer Sidharth came in touch with blogging and got national level readership through his blog called “Jyotish Darshan.” With his six years of experience in print media, he wrote enormous out of the box articles in his blog in the Hindi language.

Now he successfully runs Parashara ASTRO CONSULTANCY as a CEO. You can find his astrology articles on this website. As he studied in traditional PARASHAR Paddhati, he practices it with his main subject.

Other than you will find excellent articles about Traditional Vedic Astrology, Lal Kitab, Krishnamurthi Paddhati(KP), Samudrik Shastra, Prashna Vigyan, Natal Horoscope, Horoscope compatibility and many more.

You can find him online on the social network. On Facebook with more than 4 thousand listeners, he communicates live with his clients. On Google+ he has more than 4500 Connections. On Twitter, he has more than thousand followers. The social platform makes him available for your astrological guidance on a daily basis.

After a long journey through print media articles, Astrologer Sidharth came back to blogging and wrote almost 200 articles on various issues regarding Astrology and Vastu Shastra. You can find it all right here on this website.

If you have Exact birth data, then you can get our all premium services. If you don’t have exact birth data, then you should ask for our “PRASHNA KUNDALI SERVICE.” You will get perfect answer possible.

For the record Astrologer Sidharth graduate with Science Biology and Post Graduate with Philosophy. With his Six years of experience in Print media as Sub Editor, he can write deep Astrology subject in a very characteristic and unusual way.

देश के कुछ सर्वश्रेष्‍ठ ज्‍योतिषियों में से एक नाम है ज्‍योतिषी सिद्धार्थ जगन्‍नाथ जोशी (Astrologer Sidharth Jagannath Joshi)। परम्‍परागत वैदिक ज्‍योतिष के साथ ही लाल किताब, कृष्‍णामूर्ति पद्धति और वास्‍तु शास्‍त्र में श्री जोशी की शानदार पकड़ है। शुरूआती दौर में ही अपने सटीक फलादेशों के चलते ज्‍योतिषी सिद्धार्थ ने देश के प्रमुख ज्‍यो‍तिषियों के साथ आम जातकों का ध्‍यान भी खींचा है।

उनसे सलाह लेकर बेहतर भविष्‍य बना रहे जातकों में केवल भारत में रहने वाले भारतीय ही नहीं बल्कि दुनियाभर में फैले हजारों भारतीय लाभान्वित हुए हैं। ज्‍योतिषी सिद्धार्थ ने अमरीका, ऑस्‍ट्रेलिया, इंग्‍लैंड, यूरोप के कई देशों, मध्‍य एशिया, चीन और दुनिया के कई दूसरे हिस्‍सों में रह रहे भारतीयों को सेवाएं दी हैं और न केवल उन्‍हें जातक के रूप में बल्कि एक स्‍थाई मित्र के रूप में पाया है। ज्‍योतिषी सिद्धार्थ जगन्‍नाथ जोशी ने वर्ष 1999 में फलादेश देने शुरू कर दिए थे, जबकि इससे महज दो साल पहले 1997 में ही उन्‍होंने सीखने की विधिवत शुरूआत की थी। लेकिन 2003 से पहले तक कभी व्‍यावसायिक उपयोग नहीं किया गया।

इसके बाद बीकानेर में ही एक ऑफिस खोलकर ज्‍योतिष को पेशेवर तरीके से अपनाकर उन्‍होंने सेवाएं देनी शुरू की और इसी के साथ श्री जोशी ने वरिष्‍ठ ज्‍योतिषियों का ध्‍यान अपनी ओर खींचा।

वर्ष 2007 में श्री सिद्धार्थ हिंदी ब्‍लॉगिंग से जुड़े। यहीं से उन्‍हें राष्‍ट्रीय स्‍तर पर पाठक मिलने शुरू हुए। अपने ज्‍योतिष दर्शन नाम से चल रहे ब्‍लॉग में उन्‍होंने करीब दो सौ लेख लिखे हैं। छह साल के पत्रकारित के अनुभव ने उन्‍हें सिखाया कि कैसे ज्‍योतिष जैसे गूढ़ और क्लिष्‍ट विषय को आम बोलचाल की भाषा में पेश किया जाए।

इससे पाठकों को भी इस विषय में नित नई जानकारियां मिली। संप्रति ज्‍योतिषी सिद्धार्थ जगन्‍नाथ जोशी पाराशर एस्‍ट्रो कंसल्‍टेंसी के प्रमुख हैं। परम्‍परागत पाराशर ज्‍योतिष को मुख्‍य विषय के रूप में अपनाने के साथ आपने लाल किताब, केपी एस्‍ट्रोलॉजी, सामुद्रिक शास्‍त्र, प्रश्‍न विज्ञान, जातक कुण्‍डली और कुण्‍डली मिलान के साथ कई विषयों पर शोधपरक अध्‍ययन किया है।

आप उन्‍हें सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर आसानी से खोज सकते हैं। फेसबुक पर चार हजार से अधिक श्रोताओं, गूगल प्‍लस पर साढ़े चार हजार से अधिक मित्रों और ट्विटर पर एक हजार से अधिक फॉलोअर्स के साथ वे लाइव मौजूद रहते हैं। इसके साथ ही ब्‍लॉग पर लिखे 200 से अधिक लेखों को आप इसी वेबसाइट पर पढ़ सकते हैं।

ज्‍योतिष विषय संबंधी किसी भी प्रकार की जिज्ञासा का समाधान करने के लिए वे सदैव तत्‍पर हैं। निजी कुण्‍डली विश्‍लेषण के अतिरिक्‍त सभी प्रकार की जिज्ञासाओं का वे नि:शुल्‍क समाधान पेश करते हैं। अगर आपके पास अपने जन्‍म संबंधी सटीक विवरण है। यानी जन्‍म स्‍थान, जन्‍म तिथि और जन्‍म समय, तो आप संस्‍थान की सभी सेवाओं का लाभ ले सकते हैं।

अगर आपके पास सटीक जन्‍म विवरण नहीं है तो इसके लिए संस्‍थान में प्रश्‍न ज्‍योतिष के जरिए आपकी जिज्ञासाओं का समाधान किया जा सकता है। ज्‍योतिषी सिद्धार्थ जगन्‍नाथ जोशी ने जीवविज्ञान में प्रथम श्रेणी से स्‍नातक स्‍तर का अध्‍ययन करने के बाद दर्शनशास्‍त्र में स्‍नातकोत्‍तर अध्‍ययन किया और इसके बाद छह साल तक पत्रकारिता से जुड़े रहे। वर्ष 2011 में पत्रकारिता को अलविदा कहने के बाद वे पूरी तरह से ज्‍योतिष विषय से जुड़ गए हैं।