इस साल कई बार ऐसे मौके आएंगे जब मानव संसाधन विकास मंत्री स्‍मृति ईरानी (Smriti irani) को अपने क्रोध पर नियंत्रण रखने की जरूरत होगी, अगर वह उन मौकों पर विफल रहती है, तो क्रोध अथवा उग्रता में किए गए निर्णय उन्‍हें दीर्धकालीन समस्‍याओं में ला सकते हैं। prediction for 2016.

23 मार्च 1976 में दिल्‍ली में पैदा हुई ईरानी के जन्‍म समय को लेकर कई भेद हैं। वर्तमान में इंटरनेट पर दो प्रकार की कुण्‍डलियां उपलब्‍ध हैं। इनमें से एक में उन्‍हें मिथुन तो दूसरी में मीन लग्‍न की जातक बताया गया है। व्‍यवहार में दोनों प्रकार के लग्‍नों से ही ईरानी की वर्तमान स्थिति का सही सही आकलन नहीं किया जा सकता। ऐसे में तात्‍कालिक प्रश्‍न का विकल्‍प स्‍मृति ईरानी के वर्ष 2016 के फलादेश के लिए अधिक सटीक विकल्‍प साबित होगा।

तात्‍कालिक प्रश्‍न ज्‍योतिष के अनुसार इस साल एचआरडी मंत्री ईरानी की स्थिति में निरंतर सुधार होगा। उनके पोर्टफोलियों में अव्‍वल तो कोई बदलाव नहीं होगा, अगर किसी प्रकार के बदलाव की गुंजाइश बनती भी है तो वे वर्तमान से बेहतर स्थिति में आएंगी। एक संकेत यह भी मिलता है कि ईरानी के भाग्‍य को साधु संतों का विशेष सहयोग मिल रहा है। इस प्रकार के गुप्‍त सहयोग से वे सामान्‍य से अधिक दर से सफलताएं अर्जित कर रही हैं। इसके साथ ही यह भी संकेत है कि सन्‍यासियों से मिली भाग्‍यदायी वस्‍तुओं को इस वर्ष उन्‍हें जल प्रवाह कर देना चाहिए, ताकि वे अपनी सफलता की यात्रा को निरंतर रख सकें।

22 अप्रेल के बाद पारिवारिक और मातृ पक्ष से संबंधित मामलों में तनाव की स्थिति बढ़ेगी। इसके लेकर ईरानी को सचेत रहना चाहिए। प्रोफेशनली यह साल उनके लिए बढि़या है, लेकिन परिवार और मातृपक्ष को लेकर कुछ स्थितियां तनावपूर्ण रहने की आशंका है।